शाबर स्त्री वशीकरण मंत्र प्रयोग से, किसी भी स्त्री को अपने वश में करें :

शाबर स्त्री वशीकरण मंत्र प्रयोग से, किसी भी स्त्री को अपने वश में करें :
 
शाबर मंत्र बहुत ही प्रभावशाली मंत्र होते है | ये अपने आप में सिद्ध होते है इसलिए कुछ मंत्र जाप से ही इन मंत्रो में प्रबलता आनी आरम्भ हो जाती है |
 
आज हम आपको एक ऐसे ही शाबर वशीकरण मंत्र के विषय में बताने जा रहे है जिसको यदि विधि अनुसार प्रयोग किया जाये तो किसी भी स्त्री को अपने वश में किया जा सकता है | यह एक स्त्री शाबर वशीकरण मंत्र है और इसका प्रयोग केवल स्त्री को ही वश में करने के लिए करना चाहिए |
 
 
वशीकरण विधि : –
गुरूवार के दिन शाम के समय आप अपने घर पर एक स्थान सुनिश्चित कर ले | उस स्थान पर एक आसन पर आप बैठ जाये | अब एक डिब्बी में थोडा नमक ले -ले | ध्यान दे डिब्बी पर ढक्कन अवश्य हो | अब आप इस डिब्बी को हाथ में लेकर इस से ढक्कन को हटा दे और नीचे दिए गये मंत्र का उच्चारण करें | एक मंत्र का उच्चारण करने के पश्चात आप डिब्बी में नमक की तरफ फूंक लगाये | इस प्रकार आप यह क्रिया 7 बार करें | इस प्रकार सात बार इस नमक को अभिमंत्रित करने के पश्चात् अब आप इस डिब्बी को बंदकर किसी सुरक्षित स्थान पर रख दे |
 
इसी क्रिया को आप प्रतिदिन 5वे गुरूवार तक करें | इस प्रकार लगातार 29 दिन तक 7 बार इस मंत्र को अभिमंत्रित करने से यह नमक पूर्णतया अभिमंत्रित हो जाता है | ध्यान दे ,जिस समय का आप चुनाव करते है , प्रतिदिन उसी समय पर यह क्रिया करें और एक भी दिन बीच में कार्य छोड़े नहीं |
 
मंत्र : –
“ ॐ भगवती भग भाग दायिनी देव दत्तीं मम वश्यं कुरु कुरु स्वाहा ”
इस मंत्र में जहाँ पर “देव दत्तीं ” शब्द आया है | आप इसके स्थान पर अभिलाषित स्त्री नाम ले |
 
अब 29 दिन बाद आप इस नमक को अभिलाषित स्त्री को खिला दे | ऐसा करने के पश्चात अब आप जैसे ही उस स्त्री से बात करेंगे वह आपके वशीभूत होनी शुरू हो जाएगी |
 
जरुरी सूचना :- यदपि, शाबर मंत्र अपना प्रभाव कभी नही खोते , किन्तु फिर भी इस प्रकार के शाबर मंत्र द्वारा किसी का भी अहित किया जा सकता है इसलिए आप इस प्रकार के मंत्र का प्रयोग केवल मानव कल्याण के उद्देश से ही करें तो उचित होगा ||
 
 

Quick Contact For Way to Happiness ,

                                          Your Worries end Here …….

सम्पर्क: मो. 9438741641 {Call / Whatsapp}

Website : http://www.srimaakamakhya.com

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply